स्टॉक एक्सचेंजों पर पैसा कमाना कैसे सीखें

स्टॉक एक्सचेंजों पर अतिरिक्त आय उत्पन्न करने के लिए, आपको यह समझने की आवश्यकता है कि ट्रेडिंग और मार्केट पैटर्न कैसे काम करते हैं। आपको यह भी सीखना होगा कि ट्रेडिंग करते समय अपनी भावनाओं को कैसे काबू करना है।

इस तथ्य के बावजूद कि भारतीय आबादी का केवल एक छोटा प्रतिशत शेयर बाजार में ट्रेड  करता है, भारत में कुल मिलाकर तेईस स्टॉक एक्सचेंज हैं। यदि आप सावधान हैं और अच्छे से शोध करना सुनिश्चित करते हैं, तो आप उम्मीद कर सकते हैं कि आप उनमें से अधिकतर का लाभ उठा सकते हैं।

यह लेख शेयर बाजार पर रिटर्न प्राप्त करने के बारे में जानने के कुछ बेहतरीन तरीकों के बारे में बताएगा।

शेयर बाजार के बारे में जानने के सर्वोत्तम तरीके

शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने के लिए पहला कदम ब्रोकर या ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म ढूंढना है। ब्रोकर बाजार के लिए आपका प्रवेश द्वार हैं, जिससे आप वास्तविक समय में परिसंपत्ति उद्धरणों (एसेट क्वोट) पर ट्रेड कर सकते हैं। एक बार जब आप शोध कर लेते हैं और ब्रोकर या ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म ढूंढ लेते हैं, तो यह सीखने का समय है कि ट्रेड कैसे किया जाता है।

स्टॉक मार्केट से कमाई करने के बारे में सीखते समय तीन मुख्य तरीके जिन्हें प्रयोग में लाना चाहिए हैं: शोध करना, ट्रेडिंग रणनीति विकसित करना और डेमो अकाउंट के साथ प्रैक्टिस करना। यह खंड इन तरीकों के बारे में बताएगा।

1. शोध करना

नौसिखिए ट्रेडर के रूप में शुरुआत करते समय, सबसे पहले शोध करें। आपको इस विषय पर पुस्तकों पर बहुत अधिक पैसा खर्च करने की आवश्यकता नहीं है। आपको जो भी जानकारी चाहिए वह ऑनलाइन मिल सकती है।

तकनीकी और मौलिक विश्लेषण (फंडामेंटल एनालिसिस) के बारे में सीखने पर ध्यान केंद्रित करें। कुछ नौसिखिए ट्रेडर्स को लगता है कि तकनीकी विश्लेषण ही एकमात्र विश्लेषणात्मक तरीका है जिसे उन्हें बाजार में लागू करने की आवश्यकता होगी, लेकिन आपको दोनों तरीकों का उपयोग करना चाहिए। आपको समय के साथ उत्पन्न होने वाले विभिन्न स्टॉक चार्ट पैटर्न से खुद को परिचित करने के लिए भी समय निकालना चाहिए।

2. एक ट्रेडिंग रणनीति विकसित करना

अपनी खुद की ट्रेडिंग रणनीति विकसित करने का प्रयास करें। हो सकता है कि आप अभी स्वयं चार्ट का विश्लेषण न कर पाएं। यदि ऐसा है, तो देखें कि सबसे प्रसिद्ध और सफल ट्रेडर्स किस तरह के नियमों का उपयोग करते हैं और उनके नक्शेकदम पर चलें।

स्टॉक एक्सचेंजों पर ट्रेडिंग के लिए विस्तृत योजना बनाना आपकी बुद्धिमानी होगी। निर्धारित करें कि आप बाजार में कब प्रवेश करेंगे और कब बाहर निकलेंगे।

अपनी रणनीति को वास्तविक रूप से आज़माने से पहले अपने डेमो खाते पर कोशिश करना याद रखें।

3. डेमो अकाउंट के साथ प्रैक्टिस करना

कई कंपनियां डेमो अकाउंट सेवाएं प्रदान करती हैं। ऐसा करने वाली किसी एक कम्पनी को खोजने का प्रयास करें, और उनके डेमो अकाउंट प्रोग्राम से सीखने के अवसर लाभ उठाएं।

डेमो अकाउंट के साथ प्रैक्टिस करने से आपको अपने द्वारा चुने गए स्टॉक एक्सचेंज के ऑनलाइन ट्रेडिंग तंत्र से खुद को परिचित करने का मौका मिलता है। यह आपको बाजार एनालिसिस को समझने का अवसर भी देता है। चूंकि आप कोई वास्तविक पूंजी नहीं लगा रहे हैं, इसलिए आपको धन खोने की चिंता करने की आवश्यकता नहीं है।

अपने डेमो खाते का उपयोग करते समय, ध्यान रखें कि वास्तविक फंड्स के लिए ट्रेड काफी अलग है। इसमें अधिक तीव्र भावनाएं शामिल हैं, और बाजार उतना अच्छा व्यवहार नहीं कर सकता है।

अपने वास्तविक खाते का उपयोग करना

इन चरणों का पालन करने के बाद, वास्तविक खाता खोलने का समय आ गया है।

जब आप शुरू करते हैं, तो पूंजी की सबसे छोटी संभव राशि का उपयोग करें। आपको अभी भी बहुत कुछ सीखना है, इसलिए आप कोई अनावश्यक जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं। असली में  ट्रेड करते समय, आप ट्रेडर्स के सबसे बड़े दुश्मन के सामने आएंगे: ट्रेडर की अपनी भावनाएं।

भय, क्रोध, लोभ, कसूर, उत्तेजना-भावनाओं का यह मिश्रण सीधा सोचना कठिन बना देगा। यदि आप गंभीर रूप से सोच सकते हैं, तो आप शेयर बाजार से अपना काम निकालने में अधिक सक्षम होंगे।

निष्कर्ष

एक बार जब आप इन चरणों का पालन करते हैं, तो आप पाएंगे कि आप पहले से ही शेयर बाजार में ट्रेडिंग करना अधिक सहज महसूस कर रहे हैं। जितना हो सके सीखने की कोशिश करें और जितना संभव हो उतना विश्लेषणात्मक बनें, और उम्मीद है कि आप स्टॉक एक्सचेंज में ऑनलाइन ट्रेडिंग में महारत हासिल करेंगे।

साझा करें
लिंक कॉपी करें
Link copied
सबंधित आर्टिकल
8 मिनट
2022 में नज़र रखने वाले शीर्ष एनएफटी स्टॉक्स
4 मिनट
स्टॉक खरीदने के लिए सही समय क्या है?
6 मिनट
मनी मैनेजमेंट 2022 के लिए एक शुरुआती गाइड
4 मिनट
अपना पहला ट्रेडिंग खाता खोलते समय आपको क्या पता होना चाहिए
4 मिनट
कैसे तय करें कि स्टॉक कब बेचना है?
4 मिनट
ईटीएफ की दुनिया: एक शुरुआती गाइड