हाई वोलाटिलिटी वाले करेंसी पेयर – उनका ट्रेड कैसे करें

इसमें कोई संदेह नहीं है कि विदेशी मुद्रा बाजार कई कारकों के अधीन है जो करेंसी पेयर की वोलाटिलिटी को प्रभावित करते हैं। इस समझ के साथ, कई ट्रेडर्स ने कुछ सबसे वोलेटाइल करेंसी पेयर का लाभ उठाने के लिए अपनी रणनीतियों को कारगर बनाने का फैसला किया है।

किसी भी करेंसी की वोलाटिलिटी को प्राइस मूवमेंट के डाइवर्जन्स या मानक डाइवर्जन्स की गणना करके मापा जा सकता है। यह अंतर्दृष्टि ट्रेडर्स को एक निश्चित अवधि के बाद अपने औसत के सापेक्ष मूल्य में बदलाव के लिए एक विशेष करेंसी की प्रवृत्ति का एक परफेक्ट आईडिया देती है।

आर्बिट्रेज ट्रेडिंग रणनीतियाँ क्या हैं?

बाजार में उतार-चढ़ाव का आकलन करने का एक और तरीका यह है कि करेंसी पेयर्स की वास्तविक औसत सीमा को देखने तांकि यह निर्धारित कर सकें कि यह कीमत में कितना बदल गया है। हालांकि हाई वोलाटिलिटी करेंसी पेयर संभावित इनाम को बढ़ाते हैं, यह एक बड़ा जोखिम भी प्रस्तुत करते हैं।

एनबी: नीचे दर्शाए गए सभी चार्ट आपको करेंसी पेयर की वोलाटिलिटी के बारे में जानकारी देते हैं।

AUD/JPY

AUD/JPY करेंसी पेयर सबसे वोलेटाइल जोड़े में से एक है और येन के मुकाबले ऑस्ट्रेलियाई डॉलर के पेयर का प्रतिनिधित्व करती है। इस करेंसी पेयर द्वारा प्राप्त उतार-चढ़ाव प्रमुख रूप से दोनों देशों के बीच संबंधों के कारण है।

एक ओर, ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (AUD) एक कमोडिटी करेंसी है जिसका अर्थ है कि यह ऑस्ट्रेलिया से निर्यात की मात्रा और कीमत से सीधे जुड़ा हुआ है। दूसरी ओर, जापानी येन को ट्रेडर्स द्वारा आर्थिक अस्थिरता के समय में एक सुरक्षित संपत्ति माना जाता है।

The above chart shows the price movement of the Australian dollar against the Japanese Yen

आपस में भिन्न होने वाली एक साथ जोड़ी गई मुद्राओं का मतलब है कि प्राइस मूवमेंट वैश्विक आर्थिक दृष्टिकोण और कुछ हद तक ऑस्ट्रेलियाई अर्थव्यवस्था पर निर्भर करता है।

ट्रेड कैसे करें

इस करेंसी पेयर के ट्रेडिंग में, ट्रेडर्स को वैश्विक आर्थिक समाचार और विकास के साथ बने रहने की आवश्यकता है। अच्छी खबर यह है कि यह पेयर अभी भी सपोर्ट और रिज़िस्टन्स स्तरों का अनुपालन करती है, इसलिए हो सकता है कि आप उस पर अपनी नज़र रखना चाहें।

USD/ZAR

ट्रेडिंग रणनीतियों को कैसे सीखें

USD/ZAR करेंसी पेयर दक्षिण अफ़्रीकी रैंड के मुकाबले संयुक्त राज्य डॉलर को सेट करती है। इस जोड़ी की अस्थिरता को प्रभावित करने वाला प्राथमिक कारक सोने की वैश्विक कीमत है। दक्षिण अफ्रीका एक महत्वपूर्ण निर्यातक और अमेरिकी डॉलर में सोने की कीमत होने के कारण इसकी कीमत को सोने की कमजोरी या मजबूती के बराबर बनाती है।

Chart showing the volatility of the US dollar against that South African rand

इसका तात्पर्य यह है कि यदि सोने की कीमत में वृद्धि होती है, तो यूनाइटेड स्टेट्स डॉलर (USD) भी दक्षिण अफ्रीकी रैंड (ZAR) के मुकाबले ऊपर जाने की संभावना है। इसका मतलब है कि दक्षिण अफ्रीका को अपने सोने के लिए और अधिक यूनाइटेड स्टेट्स डॉलर मिलेंगे।

दूसरी ओर, सोने के निर्यात के कारण अमेरिकी डॉलर की पॉजिटिव वोलाटिलिटी से दक्षिण अफ्रीकी रैंड की कीमत में और गिरावट आएगी।

ट्रेड कैसे करें

USD/ZAR करेंसी पेयर का ट्रेड करने के इच्छुक ट्रेडर्स को सबसे पहले सोने की वैश्विक कीमत और पोजीशन खोलने से पहले कीमत को प्रभावित करने वाले कारकों पर पर्याप्त बाजार विश्लेषण करना चाहिए।

NZD/JPY

एक और वोलेटाइल करेंसी पेयर है न्यूजीलैंड डॉलर (एनजेडडी) बनाम जापानी येन (JPY)। ऑस्ट्रेलियाई डॉलर के समान, NZD भी एक कमोडिटी करेंसी है जिसका मूल्य न्यूजीलैंड से कृषि निर्यात की कीमत पर टिका है। यह कारक ही पूरी तरह से करेंसी की वोलाटिलिटी के पीछे है।

इस ज्ञान को अपने वॉलेट में डालें!
Binomo पर जाएँ
Chart showing the volatile pair between the New Zealand commodity currency and the safe-haven Japanese Yen

जापानी येन के साथ पेयर बनाना, जो अधिक वोलेटाइल है, का अर्थ है कि करेंसी पेयर की समग्र वोलाटिलिटी अंडे, डेयरी, लकड़ी, शहद और मांस जैसे न्यूजीलैंड के निर्यात वस्तुओं की कीमत में बदलाव पर निर्भर करती है।

ट्रेड कैसे करें

हेलीकॉप्टर ट्रेडिंग रणनीति: यह 2022 में क्यों काम नहीं कर सकता है

NZD/JPY करेंसी पेयर में ट्रेडिंग करने का मतलब है खुद को न्यूज़ीलैंड की आर्थिक वृद्धि से अपडेट रखना। उसी समय, आप अपनी ओपन पोजीशन को सुरक्षित करने के लिए अन्य तकनीकी विश्लेषण टूल पर काम करते हैं।

10 संकेत जो दर्शाते हैं कि आप एक ट्रेडर के रूप में सफल होंगे
कई ट्रेडरों के पास कई कुदरती लक्षण होते हैं जो उन्हें सफल बनाते हैं। बाकी लोगों को उन पर काम करना पड़ता है। पता लगाएँ कि आपके पास कौन से हैं!
अधिक पढ़ें

USD/TRY

USD/TRY करेंसी पेयर यूनाइटेड स्टेट्स डॉलर और टर्किश लीरा के इर्द-गिर्द घूमती है। 2016 के बाद से, एक असफल तख्तापलट और उसके बाद के लगातार सामाजिक शुद्धिकरण के बाद, तुर्की लीरा अस्थिर बनी हुई है।

TRY की कीमत में अस्थिरता इस तथ्य से स्पष्ट थी कि 2019 के चुनावों में रेसेप तईप एर्दोगन के हारने के बाद तुर्की लीरा में गंभीर रूप से गिरावट आई थी।

 Chart showing the currency pair between the US dollar and the Turkish lira with price instability since 2019

बाजार विशेषज्ञों का मानना ​​​​है कि तुर्की की राजनीति में जब तक स्थिरता नहीं आती तब तक लीरा अपनी अस्थिर स्थिति बनाए रखेगी।

ट्रेड कैसे करें

अन्य करेंसी पेयर के विपरीत जो मुख्य रूप से तकनीकी विश्लेषण, राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था और वैश्विक निर्यात समाचार पर निर्भर करते हैं, USD/TRY मुद्रा में अधिक वोलाटिलिटी रिस्क होता है। इस पेयर का ट्रेड करने के इच्छुक ट्रेडर्स को तुर्की और संयुक्त राज्य अमेरिका से आने वाली राजनीतिक और आर्थिक खबरों पर कड़ी नजर रखनी चाहिए।

क्या सीखें 

करेंसी पेयर की वोलाटिलिटी जितना आपको अपनी निवेश पूंजी बढ़ाने का अवसर प्रदान करती है, आपको इसके जोखिम को भी समझना चाहिए। अलग-अलग देशों के वैश्विक और आर्थिक बाजार को समझने के अलावा, नीचे दिए गए कदम आपको वोलेटाइल करेंसी पेयर का ट्रेड शुरू करने में मदद करेंगे:

  • अपनी पसंदीदा करेंसी पेयर पर अपना शोध करें
  • करेंसी पेयर पर मौलिक और तकनीकी विश्लेषण करें
  • एक आरामदायक ट्रेडिंग रणनीति के लिए समझौता करें जो आपके जोखिम एक्सपोज़र के साथ संरेखित हो
न्यूनतम नुकसान के साथ व्यापार कैसे करें: 7 सुनहरे नियम

ऊपर दिए गए चरणों का पालन करना 100% सकारात्मक परिणाम की गारंटी नहीं देता है, लेकिन आपको वोलेटाइल बाजार में प्रभावी घटनाओं के लिए तैयार करता है।

लाइक
साझा करें
लिंक कॉपी करें
लिंक कॉपी किया गया
Go
गो दबाएं और पहिया आपके लिए दिन का अपना लेख चुनेगा!
सबंधित आर्टिकल
4 मिनट
लुप्त होती ट्रेडिंग रणनीति: एक पूर्ण गाइड
5 मिनट
ब्रेकआउट ट्रेडिंग डोनचियन चैनलों के साथ : आपको क्या पता होना चाहिए
5 मिनट
फाइबोनैचि ट्रेडिंग के लिए पूरी गाइड
5 मिनट
रणनीति क्या है?
5 मिनट
सबसे अच्छा चलती औसत रणनीतियों
4 मिनट
2022 में फॉरेक्स आर्बिट्रेज ट्रेडिंग रणनीति का उपयोग कैसे करें

इस पेज को किसी अन्य एप में खोलें?

रद्द करें खोलें