आर्थिक रूप से सवतंत्रता कैसे प्राप्त करें

आर्थिक रूप से सवतंत्रता प्राप्त करना बहुत मुश्किल हो गया है। 80 के दशक में 50% की तुलना में 2018 में केवल 47% लोग ही आर्थिक रूप से स्वतंत्र थे। साथ ही, 34% मिलेनियल्स अभी भी अपने माता-पिता के साथ रहते हैं या उनसे समर्थन प्राप्त करते हैं पर कुछ जीवन बदलने वाली आदतें आपके जीवन को बदलने और आर्थिक स्वतंत्रता प्राप्त करने में मदद कर सकती हैं।

उचित बजट बनाएँ  

तस्वीर : खाली बटुआ पकड़े हुए एक व्यक्ति की तस्वीर (तस्वीर सुझाव ) 

जब आप आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने की कोशिश कर रहे हों, तो आप एक बजट बनाकर शुरुआत करना चाह सकते हैं। यहाँ, आपको अपने सभी मासिक खर्चों, बिलों से लेकर कर्ज़ और अपने घर के अन्य मासिक खर्चों को जोड़ना चाहिए।

एक अच्छी तरह से हिसाब लगाकर बनाएँ गए बजट में आपको अपने फण्ड को निम्नलिखित तरीके से वर्गीकृत करना चाहिए:

  • 50% आवश्यकताओं के लिए: आवश्यक बिल जैसे कि आपके लोन, किराने का सामान, उपयोगी वस्तुओं, और अन्य आवश्यक भुगतान जो जीवित रहने के लिए ज़रूरी हैं।
  • 30% अपनी इच्छाओं के लिए: चीजें जो आवश्यक नहीं हैं लेकिन जीवन को आरामदायक बनाती हैं, जैसे मूवी या कॉन्सर्ट टिकट, कभी-कभार बहार डिनर करना, जूते की एक नई जोड़ी इत्यादि।
  • 20% बचत के लिए: ऋण चुकाने के लिए एक्स्ट्रा पेमेंट, रिटायरमेंट या बचत खाते में ज़मा करने के लिए पेमेंट।

अपनी आय के आधार पर अपने बजट को एडजस्ट करना उचित है, लेकिन यदि आपकी “आवश्यकताएँ” 50% से अधिक हो जाती हैं, तो आप अपनी “इच्छाओं” में कटौती करने पर विचार कर सकते हैं या कुछ अतिरिक्त आय प्राप्त करने का तरीका ढूंढ सकते हैं।

अपने फंड्स को निवेश करें 

हर महीने अपने अतिरिक्त फण्ड का निवेश करने से आपको आर्थिक स्वतंत्रता तक पहुंचने के अपने मार्ग में मदद मिल सकती है। आप शेयर खरीदकर ऐसा कर सकते हैं, या बचत खाते जैसा एक सरल विकल्प भी अच्छा तरीका हो सकता है।

बैंक में बचत खाते में रखे गए फंड्स पर आपको ब्याज मिलता है। जितने अधिक समय तक वे फण्ड न छेड़े जाएँ, आपको उतना ही अधिक ब्याज मिलेगा। आने वाले वर्षों में, आपकी आय में उल्लेखनीय वृद्धि होगी, और यह आपके क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाने में भी मदद करेगा।

यदि आप निवेश करके अतिरिक्त आय प्राप्त करने का प्लान बना रहे हैं, तो आपको पहले बाज़ार को अच्छे से जानना और समझना होगा- और इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि छोटी शुरुआत करें। उदाहरण के लिए, यदि आप शेयरों में रुचि रखते हैं, तो पहले बाजार की संभावनाओं का पालन करें।

अनावश्यक खर्चों में कटौती

अनावश्यक खर्चों को कम करने से आपको आर्थिक स्वतंत्रता प्राप्त करने में मदद मिल सकती है, क्योंकि तब आप पेचेक-टू-पेचेक योजना के शिकार नहीं होंगे। आप ऐसे शुरू कर सकते हैं:

  • बाहर खाना खाने के बजाय घर पर ही खाना बनाएं
  • उन सब्सक्रिप्शन में कटौती करें जिनका आप कभी-कभी या बिल्कुल ही उपयोग नहीं करते हैं
  • आवेश में आकर कुछ भी खरीदने से पहले 24 घंटे तक इंतेज़ार करें
  • जब आपको कुछ खरीदने की आवश्यकता हो तो सौदों और छूटों की तलाश करें

जब आप अनावश्यक ख़र्चों को कम करने के लिए काम कर रहे हों, तो अपने आप से पूछें: क्या मुझे वाकई इसकी ज़रूरत है? यहां तक कि छोटे नियमित खर्चों को कम करने से भी आपको लंबे समय में बचत करने में मदद मिल सकती है।

अपने क़र्ज़ का भुगतान करें

तस्वीर: पैसे गिनने वाले व्यक्ति की तस्वीर (तस्वीर सुझाव)

कर्ज़ संभवतः मुख्य चीज है जो आपको आर्थिक स्वतंत्रता तक पहुंचने से रोकता है। जितनी देर आप अपने कर्ज का भुगतान नहीं करेंगे, आपको उतना ही अधिक दंड देना होगा। यहाँ तक ​​​​कि अगर आप समय पर अपने कर्ज का भुगतान करते हैं और आपको कोई जुर्माना नहीं लगता, तब भी यह आपको अपने वित्त को अपनी इच्छानुसार व्यवस्थित करने से रोकेगा।

जब आपके पास कम फंड्स हो तो अपने कर्ज़ पर न्यूनतम भुगतान करने में कुछ भी गलत नहीं है। फिर भी, जब आप अधिक अतिरिक्त आय प्राप्त करना शुरू करते हैं तो आप इसे अपने कर्ज़ की ओर अधिक निर्देशित करना चाहेंगे। जब आप कर्ज़ से मुक्त हो जाते हैं, तो आप खुद को “आर्थिक रूप से स्वतंत्र” कह सकते हैं।

मोल–भाव का प्रयास करें

आजकल, लोग टकराव के डर से खरीदारी करते वक़्त मोल-भाव नहीं करना चाहते हैं। वे दुकानदार के आगे घटिया नहीं दिखना चाहते हैं, इसलिए दुकानदार जो कीमत मांगता है, वे इसका भुगतान कर देते हैं। लेकिन, ठीक से बातचीत करना सीखकर, आप इधर-उधर बचत कर सकते हैं।

उदाहरण के लिए, मान लें कि एक छोटा विक्रेता व्यवसाय है जिससे आप लगातार अपनी ज़रुरत का सामान खरीदते हैं। आमतौर पर, छोटी दुकानें नियमित ग्राहकों के लिए मोल-भाव या छूट के लिए लगभग हमेशा त्यार रहती हैं। आपको बस उनसे पूछने की जरूरत है।

समापन टिप्पणी

आर्थिक स्वतंत्रता प्राप्त करने में वर्षों लग सकते हैं, इसलिए हो सकता है कि आप इसमें जल्दबाजी न करना चाहें। याद रखें, आप फिनिश लाइन की ओर नहीं दौड़ रहे हैं – बल्कि, आप मैराथन दौड़ रहे हैं। सावधानी से निवेश करें, समझदारी से खर्च करें और जानें कि आपके लक्ष्य क्या हैं।

साझा करें
लिंक कॉपी करें
Link copied
सबंधित आर्टिकल
5 मिनट
What is passive income?
6 मिनट
क्या हैं शेयर बाजार और ब्रोकर्स
5 मिनट
वित्तीय बाजार के मैकेनिक्स
4 मिनट
म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सबसे अच्छा तरीका क्या है?
4 मिनट
स्टॉक एक्सचेंज का क्या अर्थ है
6 मिनट
21वीं सदी के वित्तीय बाजारों के बारे में 10 रोचक तथ्य