एक बार सभी बिटकॉइन माइन हो जाने के बाद क्या होगा?

हम पहले से ही जानते हैं कि बिटकॉइन की आपूर्ति सीमा 21 मिलियन बीटीसी है। इसका मतलब है कि इस आपूर्ति सीमा तक पहुंचने के बाद अब और बीटीसी को माइन नहीं किया जा सकता है। वर्तमान में, प्रचलन में बिटकॉइन की संख्या 19 मिलियन से कुछ अधिक है, और 2140 तक इसके 21 मिलियन तक पहुंचने की उम्मीद है। तो, एक बार सभी बिटकॉइन माइन  हो जाने के बाद क्या होगा?

इससे पहले कि हम इसक के बारे में जानें, आइए पहले चर्चा करें कि बीटीसी को माइन कैसे किया जाता है और इसकी आपूर्ति अनुसूची या सप्लाई स्केजुल क्या है।

बिटकॉइन को माइन कैसे किया जाता है?

आम धारणा के विपरीत, माइनिंग का मतलब नई क्रिप्टो उत्पन्न करना नहीं है। नेटवर्क को सुरक्षित रखने के लिए माइनर को पुरस्कृत करने के लिए नए बिटकॉइन जारी किए जाते हैं। किसी भी लेन-देन को ब्लॉकचैन में जोड़ने के लिए, इसे ब्लॉकचैन पर कंप्यूटरों द्वारा सत्यापित किया जाना चाहिए। यह माइनिंग की प्रक्रिया के माध्यम से किया जाता है।

माइनरस का एकमात्र कार्य ट्रांसेक्शन को मान्य करना और ब्लॉकचैन में पुष्टि किए गए ट्रांसेक्शन के एक नए ब्लॉक को संलग्न करना है। ब्लॉकचैन में जोड़े गए प्रत्येक ब्लॉक के लिए माइनर को 6.25 बीटीसी का इनाम मिलता है।

वर्तमान में, हर दस मिनट में एक बिटकॉइन ब्लॉक उत्पन्न होता है। यानी बीटीसी की आपूर्ति हर दस मिनट में 6.25 बढ़ जाती है। तो, क्या सभी बिटकॉइन को कभी माइन किया जाएगा? हां, इस दर पर, हम उम्मीद कर सकते हैं कि 2140 के आसपास सभी बिटकॉइन को माइन किया जाएगा। और अजीब है पर, एक बार सभी बिटकॉइन के माइन हो जाने के बाद, प्रचलन में कुल बीटीसी 21 मिलियन नहीं होगा। चेनलिसिस के अनुसार, कुल बीटीसी आपूर्ति का लगभग 20% स्थायी रूप से खो जाएगा।

कितने बिटकॉइन को माइन नहीं किया गया है?

जून 2022 तक, लगभग 1.923 मिलियन बिटकॉइन को अभी तक माइन नहीं किया गया है।

जैसा कि हमने बताया, बीटीसी की आपूर्ति हर 10 मिनट में लगभग 6.25 बीटीसी बढ़ जाती है। थ्योरी में बात करें, हम उम्मीद कर सकते हैं कि शेष 1.923 मिलियन बीटीसी को अगले 5.85 वर्षों में माइन किया जाना चाहिए। लेकिन हकीकत में ऐसा नहीं है। 2140 तक सभी बिटकॉइन का माइन होने की उम्मीद है। यह बिटकॉइन हाविंग के कारण है।

बिटकॉइन हाविंग क्या है?

बिटकॉइन हाविंग प्रत्येक 210,000 ब्लॉकों के माइनिंग के बाद माइनिंग रिवार्ड में 50% की कमी को आधा कर देता है, जो हर चार साल के बाद होता है। यह बिटकॉइन की आपूर्ति स्केजुल का निर्धारण करने वाला सबसे महत्वपूर्ण कारक है।

2009 में इसकी शुरुआत के समय, एक ब्लॉक के माइनिंग के लिए 50 बीटीसी का इनाम दिया गया था; चार साल बाद, 2012 में पहली हाविंग के दौरान, पारिश्रमिक को घटाकर 25 बीटीसी कर दिया गया। दूसरा पड़ाव जुलाई 2016 में था, और रिवार्ड्स को 12.5 बीटीसी प्रति ब्लॉक कर दिया गया था। मई 2020 में सबसे हालिया बिटकॉइन हाविंग किया गया था, जिसके परिणामस्वरूप वर्तमान माइनिंग इनाम 6.25 बीटीसी प्रति ब्लॉक था। अगला हाविंग 2024 में होने की उम्मीद है और यह रिवार्ड्स को घटाकर 3.125 कर देगा।

आधा करने का सबसे बड़ा निहितार्थ बिटकॉइन आपूर्ति की वृद्धि को कम करना है। तो, क्या होता है जब सभी बिटकॉइन को माइन किया जाता है?

क्या होता है जब सभी बिटकॉइन को माइन किया जाता है?

जैसा कि चर्चा की गई है, अंतिम बिटकॉइन को माइन वर्ष 2140 तक किया जाएगा। जब सभी बिटकॉइन को माइन किया जाएगा तो इसका प्रभाव माइनरस और बिटकॉइन उपयोगकर्ताओं पर होगा।

माइनरस पर प्रभाव

यह मानते हुए कि आपूर्ति बढ़ाने के लिए बिटकॉइन के प्रोटोकॉल में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा, खनिकों को ब्लॉकों को सत्यापित करने के लिए नए बिटकॉइन प्राप्त नहीं होंगे। ट्रांसेक्शन को सत्यापित करने और स्वीकृत करने और उन्हें ब्लॉक में जोड़ने के लिए खनिकों की अभी भी आवश्यकता होगी। और यद्यपि उन्हें नए बिटकॉइन से पुरस्कृत नहीं किया जाएगा, वे केवल ट्रांसेक्शन फ़ीस प्राप्त करेंगे।

हालांकि, विवाद का एक बिंदु यह है कि वर्तमान खनन पुरस्कारों की तुलना में यह फीस बहुत कम हो सकता है। वर्तमान में, माइनिंग रिवार्ड्स में नवनिर्मित बीटीसी और ट्रांसेक्शन फ़ीस शामिल हैं। ट्रांसेक्शन फ़ीस खनिकों के लिए ट्रांसेक्शन को जल्दी से मंजूरी देने के लिए सिर्फ एक अतिरिक्त प्रोत्साहन है।

बेशक, बिटकॉइन माइनिंग के लिए महंगे हार्डवेयर की आवश्यकता होती है। वर्तमान में, माइनरस ब्लॉक रिवार्ड्स और उनके द्वारा प्राप्त ट्रांसेक्शन फ़ीस का उपयोग करके माइनिंग की लागत की भरपाई करते हैं। लेकिन जैसा कि हमने चर्चा की है, बिटकॉइन हाविंग से खनिकों के रिवार्ड्स कम हो जाते हैं। और यह तब और बढ़ जाएगा जब सभी बिटकॉइन का खनन किया जाएगा।

हालांकि, यह अनुमान लगाना उचित है कि 2140 तक, बिटकॉइन समुदाय काफी बड़ा हो जाएगा, जिसका अर्थ है अधिक लेनदेन। जितने अधिक लेन-देन, खनिकों को उतने ही अधिक रिवार्ड्स। और यह देखते हुए कि वर्तमान लेनदेन शुल्क कम है, यह उम्मीद की जाती है कि जैसे-जैसे बिटकॉइन अपनाना बढ़ेगा, बढ़ती मांग से खनिकों को क्षतिपूर्ति करने के लिए लेनदेन शुल्क में आंशिक वृद्धि भी होगी।

उपयोगकर्ताओं पर प्रभाव

समुदाय के कथित विस्तार और बीटीसी की सीमित आपूर्ति इसे एक दुर्लभ संपत्ति बना देगी। बिटकॉइन की आपूर्ति दुर्लभ होगी, जिससे अंततः कीमत में वृद्धि हो सकती है। जब सभी बिटकॉइन का खनन किया जाता है, तो यह आधिकारिक तौर पर अपस्फीति हो जाएगा।

हाविंग की वजह से, बिटकॉइन की मुद्रास्फीति हर चार साल में आधी हो जाती है। उदाहरण के लिए, 2020 की हाविंग में, इसकी मुद्रास्फीति दर 3.7% से गिरकर लगभग 1.8% हो गई। इसका मतलब यह है कि जब सभी बिटकॉइन का खनन किया जाता है, तो बीटीसी (सतोशी) की सबसे छोटी इकाई में अधिक क्रय शक्ति होगी।

बॉटम लाइन 

क्या सभी बिटकॉइन को माइन या गया है? नहीं; वर्तमान में, 19 मिलियन से अधिक बिटकॉइन को माइन किया गया है – 21 मिलियन की अधिकतम आपूर्ति का लगभग 90.84%। तो, क्या होता है जब सभी बिटकॉइन को माइन किया जाता है? सबसे पहले, खनिकों को ब्लॉक रिवार्ड के रूप में नया बीटीसी प्राप्त नहीं होगा; उन्हें ट्रांसेक्शन फीस के माध्यम से मुआवजा दिया जाएगा। और दूसरी बात, बिटकॉइन की आपूर्ति कम होगी, जिससे अंततः कीमत में वृद्धि हो सकती है।जैसे ही ब्लॉक रिवार्ड शून्य के करीब होता है, खनिकों को प्रोत्साहित करने के लिए ट्रांसेक्शन फीस बढ़ने की उम्मीद है। हालांकि, जब तक सभी बिटकॉइन का खनन नहीं किया जाता है, तब तक लगभग 120 वर्ष शेष हैं, यह संभव है कि बिटकॉइन लाइटनिंग नेटवर्क जैसे अधिक कुशल प्रोटोकॉल बिटकॉइन उपयोगकर्ताओं के लिए जल्द और सस्ता समाधान प्रदान करेंगे।

साझा करें
लिंक कॉपी करें
Link copied
सबंधित आर्टिकल
3 मिनट
बिटकोइन क्या है?
5 मिनट
मेटावर्स क्या है और यह दुनिया को कैसे प्रभावित कर सकता है?
7 मिनट
शुरुआती लोगों के लिए बिटकोइन नकद का खनन कैसे करें
4 मिनट
5 तकनीकी रुझान जो आपके रहने की लागत को कम कर देंगे
2 मिनट
AI ने मलेशिया में यातायात जाम को कम किया
14 मिनट
निवेश के लायक 8 उभरती प्रौद्योगिकियां